रक्षा मंत्री ने कहा अब हालात पर निर्भर करेगा परमाणु अस्त्र का इस्तेमाल
August 18, 2019 • UPMA SHUKLA

आरडी शुक्ला द्वारा रक्षा मंत्री लखनऊ के सांसद राजनाथ सिंह मैं कल ट्वीट करके बिना किसी देश का नाम लिए एक चेतावनी दे दी कि अगर हालात ऐसे बनते हैं की परमाणु अस्त्र का इस्तेमाल करना है तो वह तुरंत किए जाएंगे इसका मतलब हमेशा संयम और कम बोलने वाले गंभीर वरिष्ठ नेता रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने 1998 में पोखरण में स्वर्गीय पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई द्वारा किए गए परमाणु विस्फोट स्थल का दौरा करते हुए यह चेतावनी दी कि अब नए भारत में हालात पर निर्भर होगा कि हम परमाणु अस्त्रों का इस्तेमाल कब करें यह कोई जरूरी नहीं है कि हम हालत गंभीर होने के बावजूद परमाणु अस्त्रों का इस्तेमाल ना करें उनके संयमित ट्वीट का मतलब यही निकलता है अब भारत मशीन से डरने वाला और ना पाकिस्तान से अगर किसी ने भी भारत की ओर गलत निगाह से कोई हरकत की तो भारत परमाणु अस्त्र का इस्तेमाल पहले भी कर सकता है वह इंतजार नहीं करेगा ऐसा लगता है कि अब कश्मीर में धारा 370 और 35a के हटने के बाद जो हालात हैं उसमें पाकिस्तान का जो रवैया है उसको देखते हुए ही रक्षा मंत्री ने संयम में रहकर यह बात कही है को एक गंभीर राजनेता है वह उल जलूल बयान देने वाले व्यक्ति नहीं है उन्होंने ही मोदी जैसे कठोर व्यक्ति को प्रधानमंत्री की कुर्सी पर बैठाया है इधर पाकिस्तान चीन की गोद में बैठ कर उल जलूल बयान बाजी कर रहा है इमरान खान जिहाद की बात कर रहा है ऐसे में हमारे रक्षा मंत्री ने एक जुमले में पाकिस्तान और चीन को यह संदेश दे दिया है किया नया भारत किसी से डरने वाला नहीं अगर उसको जरूरत होगी तो वह किसी प्रकार के अस्त्र का उपयोग बिना समय गवाएं करेगा इसलिए अच्छा होगा कि आपके भारत को पहले का भारत ना समझें अब वह अच्छी तरह समझ ले कि अगर विपक्षियों द्वारा कोई हरकत भारत के ऊपर होती है तो वह अपनी पूरी ताकत झोंकने में पिछली बातें आड़े नहीं आने देगा रक्षा मंत्री का यह संदेश उस समय आया है जब चीन पाकिस्तान की तरफ से संयुक्त राष्ट्र में कश्मीर में 370 हटाए जाने के मामले को तूल देने की असफल कोशिश कर रहा है ऐसी आशंका है कि हमारे माननीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने चीन और पाकिस्तान दोनों को यही संदेश दिया है कि देखो भारत की ओर मत देखना वरना हम किसी भी अस्त्र को चलाने में नहीं झुकेंगे और ना ही चीन और पाकिस्तान से हमको कोई डर है इस समय वैसे भी दुनिया के लोग भारत का सम्मान कर रहे हैं संयुक्त राष्ट्र में भी मामला टाय टाय फिश हो गया और अब पाकिस्तान के पास बौखलाहट में कोई भी उल्टा सीधा कदम उठाने के अलावा कुछ बचा नहीं है इसी संदर्भ में चीन को भी संदेश देते हुए शायद हमारे रक्षा मंत्री ने पाकिस्तान को भी समझा दिया है वह कोई ऐसी हरकत ना करें जिससे कि भारत मजबूर होकर कड़ा कदम उठाने के लिए बाध्य हो जाए वैसे भी कश्मीर की हालत धीरे-धीरे सुधार की ओर है और यही हाल रहा तो पाकिस्तान को स्वयं जवाब मिल जाएगा रक्षा मंत्री में अपने ट्वीट में सिर्फ इतना कहा परमाणु अस्त्रों का इस्तेमाल हालात पर निर्भर करेगा इसके बाद अगर उनके इस बात का विश्लेषण किया जाए तो यही समझ में आता है कि उनका मतलब चीन की गोद में बैठा पाकिस्तान अपने को बहुत बलवान न समझे भारत हालात के हिसाब से कुछ भी करने के लिए तैयार है जय हिंद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की फोटो और मीडिया अप्रोच अखबार के संपादक उपमा शुक्ला की फाइल फोटो