रात का डॉक्टर
July 17, 2019 • उपमा शुक्ला

दोस्तों आज मैं आपको  लखनऊ शहर के उस डॉक्टर सेे मिलानाा चाहता जोो पिछले 40 वर्षों  जनताा की रात को सेवा करता है इस डॉक्टर का नाम है डॉ शंकर प्रसाद लोहनी डॉक्टर साहब लखनऊ के लक्ष्मण पुरी कॉलोनी में अपने क्लीनिक चलाा रहे उनका कार्य एक बड़े़ प्लाट में छोटीी-सी कोठरी चलता है आसपास  हजारों गरीब लोग रहते हैं डॉक्टर साहब नेे जब अपनी क्लीनिक शुरू की तब उस समय वे सिर्फ ₹5 ₹4 ₹2 अपनी फीस रखते थे  और लोगों को दवा देते थे डॉक्टर साहब रात 10:00 बजेे अपने क्लीनिक पहुंचते थे और सुबह 3:00 बजे तक मरीजों कोो देखते उसके बाद निशातगंज में जाकर प्रेस वालों और उनकेे जाननेे वाले पुलिस वालों की भी वह सेवक  दवा देकर किया करते थे अर्थात वे सुबह 5:00 बजे के बाद घर पहुंचते थे यह सिलसिला लगातार 40   वर्षों से अपना सेवाा शुल्क कुछ बड़ा़ा जरूर दिया है लेकिन वह मरीज केे इलाज मेंेें कोई कमीी नहीं रखते उन्होंने जगह होनेे के बावजूद अस्पताल नहीं बनवाया उनकाा कहना था कििि अगर मैं लोन लेकर अस्पताल खोलूंगा बिल्डिंग बनाऊंगा तो आखिर  लोन के ब्याज का पैसा हम कोो मरीजों और हमकोो मरीजों की जांच जबरन करवानी पड़ेगी वरना हम इस लोन का पैसा कैसेे अदा बस यहीी सोचकर उन्होंने अस्पताल नहीं बनाया और आज कीी तारीख तक वे रात को 3:00 बजे तक बैठकर  सस्ते में लोगों का इलाज करते हैं गरीबों के लिए भगवान कहे जाते है क्योंकिि इतनेे सस्ते में कोई भी डॉक्टर रात भर बैठ कर इलाज नहीं कर सकता आज यह डॉक्टर साहब शहर भर केेेे लिए एक मिसाल है और लोग इनकी पूजाा करते ऊपर चित्र में डॉक्टर लोहनी और मैं आरडी शुक्ला