वाह रे योगी तूने तो प्रदेश की दशा ही बदल दी
March 19, 2019 • UPMA SHUKLA

दोस्तों आप माने ना माने मैं आरडी शुक्ला पत्रकार पिछले 30 40 सालों से प्रदेश में पत्रकारिता कर रहा हूं और यहां के हालातों का बखूबी ज्ञान है प्रदेश के सबसे बड़े अखबार स्वतंत्र भारत में मैंने सन 1980 में कार्य शुरू किया उसके बाद हमको क्राइम रिपोर्टर बनाया गया मतलब जहां भी खून खराबा हो वहां हमको पहुंचना है और वहां रोते बिलखते लोगों की खबर तुरंत अपने अखबार में लाकर देनी है इत्तेफाक की बात सन 1980 से 1990 तक लगातार कांग्रेस का शासन रहा और उस दौरान पूरी तरह अपराधियों का राज रहा अपराधी खुलेआम सड़कों पर गोलियां चलाते अपने गिरोह बनाते उनसे न पुलिस बोलने वाली थी और ना कोई नहीं था नेता खुलेआम उनको समर्थन देते थे एक मैं बेवकूफ था जो शासन प्रशासन के साथ मिलकर इन माफिया बदमाशों के खिलाफ अभियान छेड़ दिया मैंने पुलिस से दोस्ती कर ली और अपराधियों से सीधे दुश्मनी मेरे पर कितनी बार जानलेवा हमले हुए बिना इसकी परवाह की है मैं अपराधियों से लड़ता रहा अब अगर हमसे लखनऊ की बात देखें यहां पर कुख्यात अपराधियों का खुलेआम जमावड़ा रहता था खुलेआम वसूली होती थी खुलेआम सड़कों पर गोलियां चलती थी हत्याएं होती थे लेकिन इन अपराधियों से बोलने वाला कोई नहीं था क्योंकि इनके ऊपर सीधा सत्ता का हाथ था कहां जिन विचारों के ऊपर सत्ता का हाथ नहीं होता था वह अपराधी अवश्य पुलिस के शिकार होते थे बाकी अपराधी जमके वसूली करते थे अराजकता फैलाते थे और खुले असलहा लेकर के लखनऊ में घूमते थे यह सब मैं खुद देखता था सब जानते समझते भी दलों मैं बटे यह माफिया पूरी राजनीति चलाते थे पुलिस तो सिर्फ उतना करती थी जितना शासनादेश देता था वह भी खूब कमाते थे कहा जाता है कि आज कानून व्यवस्था ठीक नहीं है तो मैं कहना चाहता हूं आज कानून व्यवस्था पूरी तरह ठीक है ऐसी कानून व्यवस्था का माहौल पिछले 10 सालों में नहीं दिखा और होता भी क्यों नहीं क्योंकि हमारे प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने एक निर्णय ले लिया कि वह अपराधियों पर दया नहीं करेंगे सख्त कार्यवाही या शुरू हो गई अपराधी या तो जेल के अंदर हो गए या तो प्रदेश छोड़ गए या तो भाग खड़े हुए या या मारे गए यह सब हम लोग कभी ना देख पाए हम लोगों को यह देखा कि कांग्रेस के शासन में अपराधियों को पूर्ण समर्थन मिलता था वह अपराध करते थे उनके ऊपर नेताओं का हाथ होता था कहीं ना कहीं से उनको राहत मिलती रहती है इस तरह के हम दर्जनों उदाहरण दे सकते हैं क्योंकि हमने पूरा 20 25 साल जो हालात देखे हैं प्रदेश के उसमें तो सिर्फ यही देखने को मिला कि अपराधियों के रिश्ते सपा बसपा कांग्रेसी रहे भाजपा का तो कहीं नाम नहीं था और यह लोग खुलेआम अपराधियों को राजनीत कराते रहें उनको चुनाव लड़ आते रहे और उन के बल पर चुनाव लड़ते रहे अभी पिछले साल जब मैं इन अपराधियों से बहुत तंग आ गया तो मैंने सोचा कि जब यह मुझको जिंदा नहीं छोड़ेंगे और यह मुझ को खत्म करके मानेंगे उसका कारण था कि मैं अपनी क्राइम रिपोर्टिंग में अपराधियों का वही हाल करता था जो आज योगी आदित्यनाथ कर रहे हैं योगी जी के पास पुलिस बल है और क्या देश में ताकत है हमारे पास केवल कलम थी वह भी एक सीमा के बाद हमसे छीन ली गई थी हमारे पास पद था मैं भारतीय जनता पार्टी का सभासद भी हुआ लेकिन सरकार नहीं थी यह 1990 की बात है और स्वतंत्र भारत में काम नहीं कर रहा था मैं अपराधियों के खिलाफ लिख रहा था और अपराधी हमारे पीछे पड़े थे मैं पैसा नहीं कमा रहा था यह सब पैसा कमा रहे थे मैं मंदिर बनवा रहा था धर्म कर रहा था जो आमतौर पर पत्रकार कभी नहीं करते यह लोग लूटा मारी कर रहे थे मैं इनके खिलाफ कलम का इस्तेमाल कर रहा था साथ में में 1976 से अधिवक्ता भी था इस कारण अपराधी सीधे तो हमारे परिवार नहीं कर पाते थे लेकिन पीछे से इन लोगों ने हमको कहीं का नहीं छोड़ा हम भी थे योगी जी के नियमानुसार इन से लड़ते रहे और इस हद तक लड़े कि अपने को बर्बाद कर लिया घर बार सब नाश हो गया यही नहीं आज तो इन अपराधियों से लड़ते-लड़ते इतना बीमार हो गए हैं चलना फिरना भी दूभर हो गया है लेकिन एक बात थी कि मैंने इन अपराधियों का साथ करने से अच्छा पुलिस का साथ कर लिया पुलिस जुल्म सोच समझ कर करती है उसको नौकरी करनी होती है बाल बच्चे पालने होते हैं अपराधी के लिए कैसा होता है और वह पैसे के लिए कुछ भी कर देता है क्योंकि मैं पुलिस वालों के साथ साथ के साथ था इसलिए आज तक बचा रहा मुझे नहीं मालूम था ना कभी मैंने कभी कल्पना की थी कि प्रदेश में कोई योगी सत्ता संभालेगा और वो अपराधियों का सफाया कर देगा हमने तो सोचा था कि शायद फिर सपा बसपा का गठबंधन हो जाए और फिर इनके अपराधी सड़कों पर निकल आए इसलिए चुनाव भी लड़ गया लेकिन जब परिणाम आया और जब प्रदेश का मुख्यमंत्री एक संत बना तो हमारे आश्चर्य का ठिकाना नहीं रहा मैं कभी कल्पना भी नहीं कर सकता था कोई भगवाधारी राज सत्ता संभाल लेगा लेकिन ऐसा हुआ देश को भी मोदी जैसा व्यक्ति मिला और प्रदेश को योगी जैसा जिसने अपने दो-तीन वर्षों में ही अपराधियों का पूरी तरह सफाया कर दिया आज अपराधी दिखते नहीं हैं महिलाएं रात 2:00 बजे आराम से घूमती हैं कहीं कोई छेड़छाड़ नहीं कहीं कोई दंगा फसाद नहीं ऐसा माहौल पिछले 25 साल में मैंने नहीं देखा इसका तो मैं कोर्ट में एफिडेविट दे सकता हूं क्योंकि मैं क्राइम रिपोर्टर था और मैंने एक एक चीज का रिकॉर्ड रखा है जब योगी जी की घोषणा मुख्यमंत्री पद के लिए हुई तो मैं लोक भवन में आश्चर्य में डूबा था मैं विश्वास नहीं कर रहा था मैं 70 वर्ष का हूं और कम से कम 50 वर्षों से यहां की आपराधिक कृत्यों को देख रहा हूं कभी भी मैंने यह नहीं सोचा था कि धार्मिक व्यक्ति सत्ता संभाल लेगा और वह मैं मैं अपने जीवन में देख पाऊंगा इतनी शांति मिली पिछले 2 वर्षों से इसी तरह का कोई तनाव हमारे दिमाग में नहीं है इससे पूर्व जिन अपराधियों के खिलाफ जिनमें पूर्वांचल के वी माफिया शामिल थे मैंने खबरें लिखी थी उनके खिलाफ वह हमारे पीछे पड़े रहते थे लखनऊ के हो या आसपास जिलों के सभी अपराधी मुझसे दुश्मनी रखते थे मैंने किसी को नहीं छोड़ा था लेकिन दिल में अफसोस यह होता था कि जो भी सरकार सपा किया है वह सपा किया है कांग्रेश किया है भाजपा को छोड़कर सब में जिन अपराधियों के खिलाफ मैंने लिखा था कुछ ना कुछ पद पा जाते थे और सत्ता को अपनी उंगली पर घूम आते थे मैंने योगी आदित्यनाथ जी के राज में देखा कि बेईमान भ्रष्टाचारी अपराधी आज घबराया घूम रहा है परेशान है और हम लोग जैसे ईमानदार सच्चे धार्मिक मस्त चल रहे हैं हम लोगों को कोई परेशानी नहीं है भगवान करे यार आज हमेशा कायम रहे हम लोग इस बात की पूरी कोशिश कर रहे हैं मोदी जी और योगी जी कायम रहे हैं जिससे देश बचा रहे हम बचे रहे हैं समाज बचा रहे धर्म मचा रहे हैं यह कल्पना नहीं थी स्वप्न में भी नहीं सोचा था की कोई धार्मिक व्यक्ति सत्ता को इस तरह संभाल लेगा संभाल लिया बखूबी इन संभाल लिया आज सबकी बोलती बंद है बेईमान अपराधी भागे घूम रहे हैं हम लोग मस्त खुलेआम सीना तान कर घूम रहे हैं यह जरूर है की पत्रकार होने के बावजूद इतनी उम्र हो गई है कि अब उतना सकरी तो नहीं है लेकिन चुनाव में पूरी सक्रियता दिखाई देगी अब धीरे धीरे कांग्रेस के सपा बसपा के अपराधी कारनामों का पूरा खाता जिस तरह भी लिख पाएंगे हम लिखेंगे आज योगी जी ने जो शांति कानून व्यवस्था को सुधारने में लगाई है वह देखने लायक है इसीलिए जनता खुश है उसको हर तरफ अमन चैन मिल रहा है हर जाति धर्म का आदमी योगी जी की जय कर रहा है हमारी कहानी जारी रहेगी