आपराधिक घटनाओं पर मीडिया संयम और निष्पक्ष होकर पूरी छानबीन के साथ खबर का प्रसारण करें या प्रसारित करें बेकार की सनसनी फैलाना समाज के लिए घातक है आरडी शुक्ला की कलम से
October 8, 2020 • UPMA SHUKLA

उत्तर प्रदेश की वर्तमान स्थिति में मीडिया का अपना बहुत अहम रोल है क्योंकि यह देश का सबसे बड़ा प्रदेश है यहां पर होने वाली हर गतिविधियों का असर पूरे देश में पड़ता है आज यहां पर होने वाली आपराधिक घटनाओं पर मीडिया पूरी तरह स्वतंत्र है वह चाहे जिस तरीके से खबर दे चाहे वह प्रिंट मीडिया हो या इलेक्ट्रॉनिक या सोशल मीडिया लेकिन आश्चर्य तब होता है जब हर खबर को सनसनीखेज बना दिया जाता है जिससे समाज में भय व्याप्त हो जाता है वर्तमान स्थिति में प्रदेश और देश में देशद्रोहियों की बड़ी जमात मोदी और योगी सरकार के खिलाफ तरह तरह के षड्यंत्र रचने में लगी हुई है ऐसी हालत में जब प्रदेश में माफियाओं पर जमकर प्रहार हो रहा है उस समय हाथरस कांड के बहाने प्रदेश में दंगा बवाल करवाने की योजना बन गई वह तो कहिए समय रहते योगी सरकार की पैनी नजर ने इसे पकड़ लिया और बड़ी घटना होने से पहले ही गिरफ्तारियां शुरू हो गई लेकिन आप सोचें एक अपराधी घटना को बिना जांचे बिना पूरी छानबीन के इलेक्ट्रॉनिक चैनल प्रिंट मीडिया पर चलाया जाता रहा सोशल मीडिया तो नंगा नाच करी रहा है ऐसी हालत में अगर देश और प्रदेश में मोदी और योगी जैसा नेता ना बैठा होता तो अब तक न जाने क्या कर देते यह देश द्रोही लोग इसके लिए सबसे जरूरी है कि हमारा मीडिया खास तौर पर प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक थोर जानकारियों और छानबीन के बाद अपराध की खबरों को प्रसारित करें या लिखें सोशल मीडिया पर क्या हो रहा है इस पर कोई ध्यान ना दें क्योंकि वहां जो हो रहा है वह सब जानना है लेकिन प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया कुछ पूरी जिम्मेदारी से अपना दायित्व निभाना चाहिए सनसनी वाली खबरों से बचना चाहिए और खास तौर पर अपराध की खबरे बहुत सोच समझ कर दी जाए मेरा कहने का मतलब यह नहीं है की खबरें ना दी जाए लेकिन उनकी इतनी छानबीन कर ली है कि जिससे आगे जनता को उसका नुकसान न उठाना पड़े उस पर राजनीतिक रोटिया नासिक में दें आखिर इस समय हो क्या रहा है सिर्फ योगी मोदी का विरोध उसमें मीडिया को बहुत जिम्मेदारी का रोल अदा करना है देशों पर देश के भीतर भी देशद्रोही कुछ भी गलत करवाने के लिए तैयार बैठे हैं और सीमा पर भी क्योंकि देश और प्रदेश शांति से विकास के रास्ते पर जा रहा है ठोस फैसले हो रहे हैं विपक्ष को कोई मुद्दा नहीं मिल रहा है तो सोचिए एक हाथरस के आपराधिक मामले को किस स्तर पर उठा दिया गया कि आज मीडिया भी सच्चाई प्रसारित करने में लगा है वहां से प्रदेश में क्या होना था उसका आप सबको अंदाजा है मैं तो अपने मीडिया भाइयों से कहूंगा कि अपनी पुलिस का मनोबल ज्यादा ना गिराए वही वक्त का काम आएगी आपके और हमारे दोनों के खबरों को पूरा कंट्रोल रखें यह बहुत नाजुक दौर है प्रदेश और देश को बचा कर रखें यह कार्य मीडिया कर भी रहा है और आगे भी उससे संयम बरतने देश को देश को बचाए रखने मैं पूरा सहयोग करें षड्यंत्र बहुत हो रहे हैं लेकिन मीडिया उन संतो को खोलने में लगे अपराधिक घटना होने से पहले भी खबरें अपराधियों के अड्डों की पुलिस को दें सरकार पुलिस प्रशासन का मीडिया जनता पूरा साथ दे वरना हालात कभी भी बिगड़ सकते हैं वह तो भला हो योगी जी का कि वह पूरी तरह से विपक्षियों के खेल को जान रहे हैं और उसका सामना करते हुए विकास कार्यों को आगे बढ़ाने में लगे हैं मैं अपील करूंगा अपने मीडिया भाइयों से कि वे शासन का साथ दें